उफ़ ये तेरी यादें... कभी जी भर रुलाती है तो कभी जी भर हंसाती है. याद जब भी तेरी आती है, दिल का सुकून लाती है. ये मीठी सी मुस्कराहट... ...

खूबसुरत है ना...! सड़क किनारे बैठी थी गुमसुम। वो उड़ नहीं पा रही थी, शायद चोट लगी थी। ये सोचकर की कहीँ किसी गाडी या पैरो के नीचे ना आ जाये,...

याद है मुझे अपने वो खूबसूरत पल, जब इस दीवाने की एक परी से मुलाकात हुई थी. यूँ तो सपनो में कई बार मिले थे हम, पर पहली ब...

गुज़ारा है आपके साथ बचपन, जानता हु की, कैसे बिताया है आपने लड़कपन. हर अठखेलपन में छुपी होती थी, जद्दोजहद भरने की वो खाल...

आज की सुबह कुछ खास थी. साथ लाई थी अपने खट्टे मीठे एहसास ! सुबह अरसे ही फ़ोन की घंटी बजी और मै जाग उठा अपने मीठे सपनो की दुनिया से.मैंने...

disable copy paste

Google Analytics

Flickr Images